Uncategorized

उत्कर्ष की शादी में व्यवधान पैदा करेंगे तेजप्रताप और उधर गुजरात में हताश होती कांग्रेस: बी. बी. रंजन

अस्सी के दशक में कांग्रेस के खाम समीकरण यानी क्षत्रिय, हरिजन, आदिवासी और मुस्लिम समीकरण में आदिवासी पूरी तरह से कांग्रेस के साथ थे। कांग्रेस कोआदिवासी नेता छोटू बसवा के लिए पांसीटें छोड़ने की जरूरत नहीं थी। गुजरात में आजादी के बाद आदिवासी कांग्रेस के साथ हैं। दलित कांग्रेस के साथ थी और जिग्नेश जिग्नेश मेवानी […]