राजनीति

नीतीश चला रहे बिहार भाजपा

बिहार भाजपा को एक बार फिर नीतीश चला रहे हैं। हिंदुत्व धमाका दिखला नहीं पा रहा, इसलिए नीतीश जरूरी हैं। उपेन्द्र कुशवाहा से नीतीश कुमार की सहमति के बगैर अमित शाह नहीं मिलेंगे। भाजपा से कभी टिकट की गारंटी पा चुके अरुण कुमार ने अनंत सिंह प्रकरण में नीतीश कुमार की छाती तोड़ने का बयान […]

सामाजिक

सम्पन्न हुआ छठ का पहला अध्याय

  अस्ताचल सूर्य के अर्घ्य के साथ छठ का पहला अध्याय सम्पन्न हुआ। ‘होव न आदितमल सहईया हो घटिया पूजन होय’, ‘हावड़ा से चलकर आयेंगे छपरा छठ मनाएंगे ठीक है’ और ‘ऐ दादा हम त छोड़ब पड़ाका’ जैसे जेनरेशन गैप के गीतों के सम्मिश्रण के बीच भक्ति और उल्लास के वातावरण में अस्ताचल सूर्य को […]

राजनीति

तीन राज्यों के टिकट बंटवारे में मुख्यमंत्रियों की चली

मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्रियों की ओर से टिकटार्थियों की पेश सूची को पूरी तरह मानलिया गया था, लेकिन अमित शाह ने वसुंधरा राजे की सूची को दो बार लौटाई गई थी। अंततः उनके करीबी सुरेन्द्र गोयल का टिकट कट गया, अनीता कटारा और एक भी अल्पसंख्यक उम्मीदवार के नाम सूची में नहीं है। राजस्थान […]

राजनीति

तब भाजपा को लक्ष्मणरेखा रेखा पार करनी होगी

कर्नाटक के उपचुनाव में कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन से जोर के झटके का अंदेशा नरेंद्र मोदी और अमित शाह को होता तो आंध्र प्रदेश, ओड़िशा और कश्मीर की तरह ही कर्नाटक उपचुनाव को भी टाल दिया जाता।  भाजपाकर्नाटक में चार-एक से हार गई और शिमोगा को छोड़कर हर सीट पर 25 से 60 फीसदी का […]

राजनीति

2019: आम आदमी पर मंदिर भारी है

2014 के तमाम वादे अधूरे हैं, इसलिए 2019 के मुद्दे बदल गए हैं, प्राथमिकतायें बदल गईं हैं। नमो की सभा से भीड़ गायब है, नमो लहर विरल हो चुका है, उम्मीदें थम गईं हैं, अद्भुत परिवर्तन का भरोसा टूट गया है। आम आदमी पर मंदिर भारी है। चुनाव के मूल में सत्ता है, आम आदमी […]

राजनीति

लखनऊ सचिवालय या नगरपालिका?

साढ़े चार वर्षों का विकास और एजेंडा गायब? मुद्दों से भटकाने के भाजपाई नाटक का विरोध करनेवाले मंत्री राजभर के क्रांतिकारी बयान के खिलाफ फायरब्रांड गिरिराज सिंह, साध्वी प्रज्ञा, अश्विनी चौबे की बोलती बंद क्यों है?  केंद्रीय और प्रादेशिक भाजपा सरकार इन दिनों नगरपालिका अध्यक्ष का कार्य कर रही है। लखनऊ का सचिवालय नगरपालिका बन […]

राजनीति

चेहरे की कंगाली के मुगालते में न रहे भाजपा

देश में महागठबंधन बना तो एनडीए के लिए 2019 आसान नहीं होगा। हिंदू लहर का सुनामी बने या न बने, लेकिन भाजपा की इस कोशिश से अस्तित्व तलाशती विपक्षी दलों के सामाजिक समीकरणों का महागठबंधन बन जाएगा।  मुगालते में नरसिम्हा राव की सरकार बनी थी, वाजपेई की शाइनिंग इंडिया और गुड फील की सरकार चली […]