राजनीति

वाजपेयी का अंत भारतीय राजनीति में लोकतंत्र का सत्रावसान

वाजपेयी का अंत भारतीय राजनीति में लोकतंत्र और नैतिक मूल्यों का सत्रावसान है। हे लोकतंत्र! शायद अब तुम नहीं लौटनेवाले। वाजपेयी के अंत के साथ ही तानाशाह और टकराव वाली सत्ता की तुलना उदार लोकतंत्र से होने लगी है। वाजपेयी की उदारता और सहिष्णुता में लीडरशीप की ऊर्जा से लबरेज मंत्रियों ने बेखौफ वातावरण में […]

राजनीति

वेंटिलेटर पर है भारत रत्न

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी तीन महीनों से बीमार चल रहे हैं। दो दिनों से उनकी हालत गंभीर बनी हुई है। अभी एम्स में वेंटिलेटर पर हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने वाजपेयी से मुलाकात की है। एम्स के चिकित्साकों ने उनकी हालत अभी स्थिर बतलाई है।

राजनीति

क्या सवर्ण विरोधी हैं नीतीश?

बिहार में न्याय के साथ विकास के मॉडल पर चलने का दावा नीतीश कुमार करते रहे हैं, लेकिन उनकी सूची में सवर्ण नहीं हैं।  मुख्यमंत्री ने आज भी अपनी घोषित योजनाओं से गरीब सवर्णों को बाहर रखा। अल्पसंख्यक, एससी, एसटी, ओबीसी और पिछड़ों के लिए योजना लानेवाले मुख्यमंत्री ने आज गरीब सवर्णों का जिक्र तक […]

राजनीति

सुंदरता पर नाचती सियासत, घिरती सत्ता

 आसरा की कालिमा से राजद भी काला है।   ब्रजेश और मनीषा को शेल्टर होम का लाइसेंस तब मिला जब सत्ता में राजद की भागीदारी थी। वह एक ऐसा दौर था जब हर जिले के जिलाधिकारी और एसपी में एक नीतीश कुमार का चहेता होता था और दूसरा लालू प्रसाद का। तब सभी विभाग के […]

राजनीति

लोकसभा के साथ हो सकते हैं बिहार में चुनाव

अप्रैल-मई में लोकसभा के साथ ही गैर भाजपा शासित उड़ीसा, तेलंगाना व आंध्र प्रदेश में चुनाव होनेवाले हैं। इन राज्यों में कांग्रेस अपनी पैठ बढ़ाने के लिए जीतोड़ मेहनत कर रही है, लेकिन भाजपा शासित महाराष्ट्र, झारखंड, हरियाणा और भाजपा-जदयू शासित बिहार के चुनाव लोकसभा के साथ हो सकते हैं। मुजफ्फरपुर काण्ड की ज्वाला ने […]

राजनीति

एमपी, छत्तीसगढ़ और राजस्थान जीतेगी भाजपा

कांग्रेस मध्यप्रदेश में कमलनाथ, दिग्विजय सिंह और ज्योतिरादित्य की जद्दोजहद में पिटेगी। राजस्थान में सचिन पायलट, अशोक गहलौत और सीपी जोशी की रस्साकस्सी में राजस्थान में कांग्रेस की भद्द पिटेगी। छत्तीसगढ़ में बघेल और जोगी-बसपा मेल की गुटबाजी से छत्तीसगढ़ में भी कांग्रेस को हाथ मलना पड़ेगा। इस खींचतान में कांग्रेस का न तो सफल सन्देश […]

राजनीति

हेडलाइन्स प्रबंधन से अब चलती है सरकार

संपादकों, मीडिया घरानों के बाद सुप्रीम कोर्ट के जजों को केंद्र सरकार ने संदेश दिया कि न्यायाधीश की टिप्पणियां सरकार की बर्दाश्त की सीमा से बाहर हो रही हैं। अटॉर्नी जनरल ने कहा कि कोर्ट को समस्याओं के हर पहलू की जानकारी नहीं होती और उसके आदेशों का असर होता है। इसलिए कोर्ट सरकार की […]