राजनीति

मध्यप्रदेश में भाजपा का विश्वास डोल रहा है?

क्या मध्यप्रदेश में भाजपा का आत्मविश्वास डोल रहा है? मतदान के बाद कांग्रेस मुखर है, लेकिन भाजपा की चुप्पी संदेहास्पद है। अमित शाह ने छत्तीसगढ़ में 55 का आंकड़ा दिया था, मध्यप्रदेश चुनाव के बाद नंबर बताने का दावा हकलाता मिला।

राजनीति

आज राजनीति की भेंट चढ़ गया किसान आंदोलन

किसानों की मांगें पुरानी हैं और उनकी दयनीय हालात जगजाहिर है। कांग्रेस, सपा सहित कई दल सरकार तो बनाते रहे हैं, लेकिन उन सरकारों ने अपने कार्यकाल में किसानों के लिए कोई ठोस पहल नहीं की। आज किसान आंदोलन की रैलियों में राहुल, शरद, येचुरी, केजरीवाल, धर्मेन्द्र सरीखे आठ दलों के कई नेताओं ने चेहरा […]

राजनीति

योगी ने हनुमान को दलित नहीं कहा

अब सारे हनुमान मंदिरों की निगरानी दलित मांग रहे हैं, किसान आंदोलन अंततः राजनीति की भेंट चढ़ गया है। क्योंकि हनुमान पर योगी के बयानों को विपक्ष तोड़कर परोसने में सफल रहा है। “वनवासी हैं” के बाद योगी बे पूर्णकालिक विराम लिया है, लेकिन मीडिया के अल्प विराम से वाक्य का अर्थ बदल गया और […]

राजनीति

राजस्थान कांग्रेस का जन घोषणापत्र जारी

­कांग्रेस पार्टी के आज राजस्थान में जारी जन घोषणापत्र में जनवादी वादें किए गए हैं। मसलन राजस्थान में सत्ता में आने के बाद बच्चियों की शिक्षा पूरी तरह नि:शुल्क मिलेगी, किसानों का कर्ज माफ होगा, बुजुर्ग किसानों को पेंशन और बेरोजगार युवाओं को 3500 रुपए तक का मासिक भत्ता मिलेगा। जनता के प्रति इस प्रतिबद्धता […]

राजनीति

प्रधानमंत्री विदेश तो कुशवाहा की 30 तारीख का क्या होगा?

अब तेरा क्या होगा ……. कल 30 नवंबर अर्थात उपेंद्र के अल्टीमेटम की आखिरी तारीख। प्रधानमंत्री विदेश में हैं और 2 नवंबर को स्वदेश लौटेंगे। अमित शाह से मिलने में तीसरी बार विफल उपेंद्र कुशवाहा ने 30 नवंबर तक का अल्टीमेटम देते हुए भविष्य में सिर्फ प्रधानंमत्री नरेंद्र मोदी से बात करने का ऐलान किया […]

राजनीति

मीडिया का बड़ा घराना किसानों की मांगों पर मौन है

उन हाथों को थामें जो हमारा पेट भरते हैं।  ग्रामीणक्षेत्रों के सारे व्यापारी भी किसान है, क्योंकि उनका व्यापार किसानों की क्रयशक्ति पर निर्भर है। ग्रामीण क्षेत्र के हर शख्स की निर्भरता की आखिरी कड़ी किसानी है, इसलिए हर व्यक्ति किसान है। कर्ज से राहत और उचित मूल्य की मांग में किसान दिल्ली में जुटने […]