राजनीती

यूपी निकाय चुनाव में भाजपा की भारी जीत नरेन्द्र मोदी के विजन, विकास-नीति जीएसटी और नोटबंदी जैसे साहसिक निर्णयों पर मुहर : बी. बी. रंजन

मोदी की नीतियों को ललकारने वाले राहुल गाँधी के पैतृक राज्य में भाजपा की जीत के गंभीर मायने हैं

The Nagar Nigams went to polls in three phases on November
उत्तरप्रदेश निकाय चुनाव में भाजपा की भारी जीत नरेन्द्र मोदी के विजन, उनकी विकास-नीति, नोटबंदी और जीएसटी जैसे साहसिक निर्णयों पर मुहर लगा गयी है। गुजरात विधानसभा चुनाव में भाजपा को चित्त करने का दंभ भरनेवाले राहुल की कांग्रेस पार्टी का यूपी के निकाय चुनाव में सूपड़ा साफ़ हो गया है। समाजवादी पार्टी और कांग्रेस मुकाबले से बाहर हैं। सपा और कांग्रेस के महापौर प्रत्याशी हर जगह से पीछे चल रहे हैं।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस जीत के लिए नरेन्द्र मोदी के विजन को क्रेडिट दिया है, जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इसे विकास की जीत करार देते हुए मुख्यमंत्री योगी, भाजपा-कार्यकर्ताओं और प्रदेश की जनता को शुभकामना दी है। प्रधानमंत्री ने विकास-कार्यों को जन-जन तक संचरित करने के लिये भाजपा कार्यकर्ताओं के प्रति आभार व्यक्त किया है और मुख्यमंत्री योगी को धन्यवाद दिया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह जीत उन्हें इस जीत को जन कल्याण की दिशा में और अधिक मेहनत करने के लिए प्रेरित करेगी।
यूपी निकाय चुनाव में भाजपा को मिली जीत गुजरात चुनाव को बड़े अर्थों में प्रभावित तो नहीं करेगी, लेकिन मोदी की नीतियों को ललकारने वाले राहुल गाँधी के पैतृक राज्य में भाजपा की जीत के गंभीर मायने हैं। सत्ता में कई वर्षों तक काबिज सपा का सूपड़ा साफ़ हो गया है और बसपा महज झांसी और आगरा में बढ़त बना चुकी है। समाजवादी पार्टी और कांग्रेस मुकाबले से बाहर हैं। सपा और कांग्रेस के महापौर प्रत्याशी हर जगह से पीछे चल रहे हैं।
राज्‍य के 16 नगर निगम, 198 नगर पालिका परिषद और 439 नगर पंचायतों में चुनाव तीन चरणों में कराया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *