अभी द्रौपदी मूर्मू आगे, लेकिन कोई हिंदूवादी चेहरा से भी इंकार नहीं: बी. बी. रंजन.

NEWS 0 Comment

कौन बनेगा देश का पहला नागरिक: मूर्मू पर होगी आम सहमति या चुनाव जीतकर आएगा कोई हिंदूवादी चेहरा 


Related image


राष्ट्रपति चुनाव का मामला: मूर्मू के नाम पर आम सहमति संभव 


ऐसे भारतीय जनता पार्टी जून के दूसरे हफ्ते में राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार पर चर्चा करेगी लेकिन पिछले सप्ताह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं और चार बड़े केंद्रीय मंत्रियों के साथ इस मसले पर बात की है। सूत्रों का कहना है कि अभी सिर्फ झारखंड की राज्यपाल द्रौपदी मुर्मु के नाम पर चर्चा हुई है। 
कभी ओड़िशा विधानसभा में सर्वश्रेष्ठ विधायक चुनी गयी राज्य की पूर्व मंत्री और झारखंड की वर्तमान राज्यपाल मूर्मू जिला स्तर से प्रदेश तक कई अहम पदों पर रहीं हैं। इनके नाम पर आम सहमति बन सकती है।
मूर्मू देश की पहली आदिवासी राष्ट्रपति हों सकती हैं। इनका विरोध किसी भी पार्टी के लिए आत्मघाती हो सकता है। मूर्मू को आदिवासी आबादी वाले राज्यों के विधायक और दल का स्वतः समर्थन मिलेगा।
ओड़िशा में सत्तारूढ़ बीजू जनता दल, झारखंड मुक्ति मोर्चा और पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस को उनका समर्थन करना होके मद्दे नजर आम सहमति बनाने की मजबूरी हो सकती है। लेकिन कट्टरपंथी हिंदुत्व चेहरा भी मूर्मू से आगे चल सकता है।  ऐसी स्थिति में विपक्ष का साझा प्रत्याशी मैदान में होगा।

 

Leave a comment

Search

फ्यूरियस इण्डिया

Back to Top